अगर आपके Mutual Fund Investment से आपको एक Regular Income प्राप्त होने लग जाये तब कैसा लगेगा।

SWP के जरिए आपको Regular Income प्राप्त होती रहेगी।

आप भी यदि SIP Investment कर रहे हैं तो आपको भी SWP के बारे में जरूर जानकारी होनी चाहिए।

swp kya hai

SWP को विस्तार से मेरे Article SWP Kya hai, ये कैसे काम करते हैं SWP के लाभ हानि क्या है 

इसका Full Form Systematic Withdrawal Plan है.  SWP एक Redemption Scheme यानी कि Fun Withdrawal का एक तरीका हैं।

जैसे कि SIP में आप हर महीने कुछ पैसे Investment करते हैं।

SWP में आपके किए गए Investment में से AMC के द्वारा कुछ पैसे आपके Bank account में Transfer कर दिया जाता हैं।

SWP में हर महीने या जो समय आपने चुना हैं एक निश्चित राशि आप प्राप्त कर सकते हैं।

इस पैसे को वापस करने के लिए जितनी Units की आवश्यकता होगी उतनी Units को Mutual fund Company के द्वारा बेच दी जाएगी।

और फिर आपको पैसा आपके Bank account में Transfer कर दिया जाएगा।

What is SWP in Hindi

Mutual Fund में SWP एक बेहतर सुविधा है जिसमें हम एक Fixed Time Period में अपने जरूरत के अनुसार कुछ पैसे निकाल सकते हैं।

Mutual funds Scheme से कितना पैसा निकालना हैं ये हम  करता हैं।

इसमें Investors के पास Option रहता हैं की या तो वे एक Fixed Amount निकाल ले या फिर अपने Investment पर होने वाले Capital Gains को निकाल सकते हैं।

SWP कैसे काम करता हैं

मान लीजिये Anish panika ने सन 2001 में 5000 की हर महीने SBI Bluechip Fund में SIP जमा करवाई है।

2021 में Anish panika के Portfolio की Value जो कि 1 करोड़ हो गई।

अब यहाँ Anish panika के पास दो Option हैं। पहला वो पुरे पैसे निकालकर अपने Bank Account में Transfer कर दे या उन पैसों को कहीं और भी Investment कर दे।

या फिर Anish panika दूसरे Option में अपने Mutual funds Portfolio पर SWP Plan ले सकता हैं।

मान लीजिये 31.12.2021 को उसके Portfolio की Value 1 करोड़ और Scheme की NAV (Net asset value) 500 हैं।

तो इस हिसाब से Anish panika के Portfolio में कुल 20,000 Units होगी।

यहां पर आपको ध्यान देना चाहिए NAV के गिरने की स्थिति में Mutual funds House को आपका Withdrawal amount देने के लिए ज्यादा Units बेचनी पड़ेगी।

ध्यान दे की इस कारण आपके Mutual funds Portfolio में आपके Units बहुत जल्द ही समाप्त होने लगता है।

NAV का कम-ज्यादा होना Equity Mutual Fund पर प्रभाव डालता हैं।

परन्तु Debts Mutual Fund में ऐसी कोई समस्या नहीं होती है। क्योंकि  Fund में Market की Flacution का ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता।

Types of SWP in Hindi

1. Fixed Periodical Withdrawal in Hindi

इस Option में एक पूर्व निर्धारित समय पर एक निश्चित राशि निकालने का विकल्प होता हैं।

जैसे की ₹20,000 प्रति माह। इस पैसे का Payment Mutual funds Company Current NAV पर आपकी Units बेचकर आपको कर देता हैं।

2.  Appreciation Withdrawal in Hindi

इस Option में आपके Investment पर जो भी Return and Profit मिल रहा हैं, वह आपके Bank account में Transfer कर दिया जाता हैं।

आपके Investment Portfolio में 10 लाख रुपए जमा हैं। आपके Portfolio ने एक महीने में ₹20,000 का Profit दिया है।

तो इस स्थिति में मासिक SWP में आपके Bank account में ₹20,000 Transfer कर दिया जायेगा।

मान लेते हैं कि अगले महीने Profit ₹10,000 मिलता है तो आपको ₹10,000 मिलेगा।

लेकिन Appreciation withdrawal का एक नुकसान यह हैं की कई बार Portfolio में Negative Return सकता हैं।

SWP पर कितना Tax लगता हैं

SWP के द्वारा निकाले गए पैसों पर Taxe भी देना होता है।

Debt Fund 3 वर्ष पूर्व बेचीं गई Debt Fund की Units पर Tax आपकी Income Tax Slab के अनुसार ही लगेगा।

यानि की इसका Profit आपके Income में जुड़कर taxable होगी।

3 वर्ष के बाद बेचे गए Investment पर LTCG (Long Term Capital Gain) Tax लगता हैं जो की 20% तक का होता है।

Equity Fund 1 वर्ष में बेचे हुए Investment पर 15% की दर से STCG (Short Term Capital Gain) Tax लगता हैं।

Holding Period के 1 वर्ष से ज्यादा होने पर 15% की दर से LTCG लगता है। यहाँ पर आपकी अन्य आय कितनी भी हो आपको ये Tax देना ही होता हैं।

SWP कैसे Start करे

Mutual Fund SWP Plan में शुरुवात करने के लिए आपके पास दो Option मौजूद हैं।

पहले Option आप Mutual Fund Company की Website पर जाकर SWP के लिए Online Apply कर सकते हैं।

अगर आप Online SWP Apply नहीं कर पा रहे हैं तो आप SWP  का फॉर्म भरकर Fund house Office में जमा कर सकते हैं।

SWP Vs SIP in Hindi

SWP और SIP एक दूसरे के बिलकुल विपरीत होते हैं। SIP में आप हर महीने पैसा जमा करवाते हैं वहीं SWP में आपको आपके Bank account में पैसा मिलता हैं।

SIP करने पर आपके Portfolio में Mutual funds Units जमा होती हैं परन्तु SWP में Units आपके Portfolio से कम होती हैं।

क्या SWP करवाने पर Charge लगता है

SWP Scheme चालू करवाने पर कोई भी Taxes and Charges नहीं लगते हैं।

SWP में withdrawal के क्या Option होते हैं

SWP के माध्यम से निकासी करने लिए साप्ताहिक, मासिक, त्रेमासिक, अर्धवार्षिक या वार्षिक जैसा भी आपको सही लगे अपने अनुसार इसमें चुन सकते हैं।

क्या SWP Plan में बदलाव कर सकते हैं

जब भी आप चाहे तो अपनी SWP Scheme को बंद करवा सकते हैं और चाहें तो इसकी withdrawal timing को भी बदल सकते हैं।

SWP के फायदे क्या हैं

SWP Scheme उन Investors के लिए Best Option हैं जिन्होंने अपने Portfolio में अच्छा-खासा Mutual Fund Units जमा कर लिया है।

तो उनके लिए Retirement की उम्र में यह Income का अच्छा साधन बन सकता हैं।

SWP के लिए जरूरी सावधानियां क्या हैं

Equity Mutual Fund SWP से Market की Volatility के कारण हमारा Portfolio जल्दी खाली हो सकता हैं।

Debt Mutual Funds SWP एक अच्छा Income Source होता हैं।

जानिए मेरे इस Blog में आपको क्या-क्या जानकारी मिलेगी

जानिए Investment क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या-क्या हैं

जानिए Share market क्या है ये कैसे काम करते है

जानिए क्या Share market जुआ है या Business है

जानिए Share market से पैसे कैसे कमाए जाते हैं

जानिए Mutual funds क्या है ये कैसे काम करते हैं

जानिए India में Mutual funds कितने प्रकार के होते हैं

जानिए Mutual funds में Investment कैसे करते हैं

जानिए Sip क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या क्या हैं

जानिए Sip और Lump-sum में कितना अन्तर है