Ticker

6/recent/ticker-posts

Insurance Vs Investment in Hindi

अगर आप भी Insurance Policy खरीदने के बारे मे सोच रहें हैं तो पहले आपको Insurance kya hai और Investment kya hai ये कैसे काम करते हैं जानना और समझना बहुत जरूरी है।

जिससे कि आपको इसकी knowledge मिल सके और आपको insurance policy लेते समय और Investment करते समय कोई परेशानी न हो।

आपने Insurance Policy खरीद लिया है और ये सोचते हैं कि आपने बहुत ही अच्छा Investment किया है, तो शायद आप गलत साबित हो सकते हैं।

Insurance Policy कोई अच्छी Saving Scheme नहीं होता है।

Insurance केवल हमारे Risk को Cover करता है ना कि हमारा Wealth Creation करता है।

आज मैं आपको अपने इस Article Insurance Policy Vs Investment in Hindi में इन दोनों के बीच का अंतर बताने वाला हूँ।

हम में से बहुत से लोग आज तक ये बात नहीं जान पाएं है कि Insurance Policy और Investment जैसे कि Share, Mutual fund, PPF account अलग-अलग हैं।

हमारे महान देश भारत के ज्यादातर लोग बिना सोचे समझे कोई भी किसी भी तरह का Insurance Policy खरीद लेते हैं।

और फिर उस policy में अच्छे Profit मिलने का इंतजार करते हैं लेकिन ज्यादा कुछ उनको लाभ नहीं मिलता है।

एक बात तो आप मान ही लीजिए कि Insurance Policy से आपको कुछ अच्छा Profit नहीं मिलने वाला है।

मैं आपको बताऊंगा की Insurance kya hai और Investment kya hai तो आप ध्यान से पढ़ें।

हाँ अगर आपका कोई दुर्घटना हो जाता है या फिर कोई बीमारी हो जाती है।

तो insurance policy company के contract के नियमों के अनुसार आपके claim करने पर,

आपको risk coverage के रूप मे financial helps मिल सकती है।

और अगर आपको कुछ भी कोई दुर्घटना या बीमारी या फिर कोई परेशानी नहीं आती है तो आप को कुछ ज्यादा लाभ मिले इसकी कोई उम्मीद नहीं होती है।

ध्यान रहे कि insurance policy एक risk cover है ना कि कोई Investment है।

Insurance हमे हमारे और हमारे वस्तुओं जैसे कि mobile, bike and car को सुरक्षा प्रदान करता है ना कि Wealth Creation करता है।

आप भी कोई Insurance Policy खरीदकर बहुत खुश हैं कि आपने बहुत ही अच्छा Investment कर दिया है, तो आप ये सोचने वाले हमारे देश में अकेले नहीं हैं।

हमारे इस महान देश भारत की एक जनता आज भी Insurance Policy और Investment दोनों में क्या अंतर है ये बात अब तक नहीं समझ पाई है।

ये लोग बिना सोचे समझे Insurance Policy खरीदकर उसमें अच्छे लाभ पाने की आस लगाए बैठे रहते हैं।

हमारे देश में ज्यादातर शिक्षित लोग भी जानकारी के अभाव के कारण insurance policy के नाम पर या तो money back policy या Andoment या फिर Ulip plan खरीदते हैं।

आज तक आपको भी Insurance Policy और Investment का अंतर नहीं जानते रहे तो अब समझ लीजिए।

Investment को लेकर ज्यादातर लोग ये ही सोचते हैं कि उन्हें कुछ समय बाद एक बहुत लाभ मिलेगा।

कई साल तक premium चुकाने के बाद जब उनके Investment से अच्छा खासा लाभ नहीं मिलता तो उन्हें लगता है कि हम लोग अपने पैसे को गलत जगह invest कर दिए।

और फिर ये लोग investment करना ही छोड़ देते हैं और Insurance Policy, RD and FD, Post Office में पैसा लगाने लगते हैं।

ये सोचकर कि भविष्य में हमे बहुत अच्छा लाभ मिलेगा। लेकिन इनमें ज्यादा कुछ लाभ नहीं मिलता है।

इनमे सिर्फ हमे हमारे पैसों की सुरक्षा मिलती है जो हमारे पैसे के लिए बहुत जरूरी है।

पहले तो आप ये समझ लीजिए कि Insurance Policy क्या होता क्या है और Investment क्या होता है ये बात जानना आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

Insurance and Investment

What is Insurance Policy in Hindi

Insurance कोई Investment का माध्यम तो बिल्कुल भी नहीं है, ये तो हमे जोखिम से सुरक्षा देने का एक जरिया है।

जैसे कि Health insurance में आपको बीमारियों का cover मिलता है। Life insurance से आपके जीवन से जुड़े खतरों का cover मिलता है।

अगर Insurance Policy खरीदकर अच्छा लाभ पाने की उम्मीद करेंगे तो insurance मे आपको अच्छा लाभ नहीं होने वाला है।

लाभ कमाने के लिए आपको Share market and Mutual funds किसी और अच्छा लाभ देने वाले Scheme में investment करना होगा।

आप अगर insurance से अच्छा लाभ कमाने की उम्मीद करेंगे तो ये आपको अच्छा लाभ नहीं देने वाली है।

Insurance केवल सुरक्षा प्रदान करती है ना कि हमे अच्छा लाभ देती है।

कोई भी insurance policy आपके परिवार को और आपको अनचाहे जोखिमों से सुरक्षा करता है।

यह हमारे लिए एक रक्षक की तरह है जो हमारे जीवन के बुरे दौर में मदद करता है।

यह insurance policy तब भी आपके परिवार के काम आता है, जब आप मौजूद नहीं होते।

यानी कि आपकी दुर्घटना हो जाने या फिर आपके मर जाने के बाद भी आपके परिवार को पैसे की परेशानी को खत्म  करता है।

अगर आपने insurance policy के premium का नियमित payment किया है।

और policy खरीदते समय सही जानकारी insurance company को दी है तो आपके नहीं होने पर आपके परिजनों को Insurance की राशि मिलती है।

Insurance से आपके नहीं रहने पे आपके परिवार को पैसे की जरूरत को पूरा करेगी।

What is Investment in Hindi

जब आप अपनी जिंदगी में पैसा बचाने की सोचते हैं, तो अब ऐसे Schemes में Invst करते हैं जो आपको अच्छा लाभ दें।

इसके लिए आप या तो Mutual fund investment करते हैं या फिर आप Stock market investment करते हैं।

ये तो इस बात पर निर्भर करता है कि आपका Financial Target क्या है और आपकी अपने पैसों के प्रति Risk लेने की कीतनी क्षमता है।

Investment सिर्फ अच्छा Return and Profit कमाने के उद्देश्य से किया जाता है।

आप अलग-अलग Risk and Profit वाले Scheme में Investment कर सकते हैं।

आप Investment के जरिए बच्चों की पढ़ाई की planning कर सकते हैं, उनकी शादी और अपने Retirement की भी planning भी कर सकते हैं।

आप ये बात को ध्यान केंद्रित करें कि Insurance Policy के जरिए ये नहीं कर सकते हैं।

Insurance Vs Investment को एक समझना वैसे ही होता है जैसे कि Boy and Girl  को एक समझना।

क्योंकि दोनों तो जिन्दगी में जरूरी होते हैं, लेकिन दोनों के काम और लाभ अलग अलग हैं।

तो आप जब आप insurance policy खरीदें तो कभी ये न कहें कि आपने Insurance Policy में Invest किया है।

क्यूँ कि insurance और Investment दोनों अलग अलग है दोनों के काम करने और लाभ देने का तरीका अलग अलग है।

Insurance Policy Vs Investment दोनों कितना भी अलग क्यूँ न हो लेकिन ये दोनों हमारे life में पैसों की परेशानी को हल करते हैं।

जानिए मेरे इस Blog में आपको क्या-क्या जानकारी मिलेगी

जानिए Investment क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या-क्या हैं

जानिए Share market क्या है ये कैसे काम करते है

जानिए क्या Share market जुआ है या Business है

जानिए Share market से पैसे कैसे कमाए जाते हैं

जानिए Mutual funds क्या है ये कैसे काम करते हैं

जानिए India में Mutual funds कितने प्रकार के होते हैं

जानिए Mutual funds में Investment कैसे करते हैं

जानिए Sip क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या क्या हैं

जानिए Sip और Lump-sum में कितना अन्तर है

Post a Comment

0 Comments