Ticker

6/recent/ticker-posts

stock split kya hai aur kaise kaam karta hai

What is Stock Split in Share Market

Stock Split क्या है कैसे काम करते हैं इनके लाभ क्या है

Split का हिंदी में अर्थ, विभाजन या टुकड़े करना होता है, और इस तरह Stock Split का अर्थ है,
Share का विभाजन करना होता है।

मतलब मेरे पास किसी Company का Stock है, तो वो कैसे Split हो जायेगा?

जी हाँ, जवाब ऐसा जरुरी नहीं कि आपके पास जो Stock है, वो Split हो,

लेकिन Share market में ऐसा अक्सर होता रहता है, और बहुत सारी Company अपने Stock को ऐसे ही विभाजित करते रहते है।

Stock split काफी हद तक Bonus share जारी करने की प्रक्रिया से मिलता जुलता है, जब Company Stock Split की घोषणा करती है।

तो इसका मतलब ये है कि, Stock split से Company में Share की संख्या बढ़ जाएगी।

लेकिन Company के Market Capitalization और Investors द्वारा Invest किए गए Investment की Value में कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

Stock split एक Fixed Ratio में किया जाता है।

For example 1:1, या 1:2 या 1:5 Stock Split के द्वारा Stock के Face Value को Divide किया जाता है, और जैसे ही Face Value बदलता है।

Company के Total Share की संख्या बदल जाती है,
But उसकी कुल पूंजी पर कोई फर्क नहीं पड़ता है।

For example अगर किसी Company का Share price जिसकी कीमत Market में है,
100 rs और उसका Face Value है 2 rs, और Company के पास कुल Share है 10,000000,

और इस तरह Company की कुल पूंजी है – 10,00000 X 2 = 20,00000 और Market Capital है – 100 x 10,00000= 10,00000000

और Company 1:1 के अनुपात में Stock Split करती है।

तो Company के Face Value जो पहले 2 rs है,
अब 1:1 के अनुपात में Split होने से Company के Share 10,00000 से बढ़कर 20,00000 हो जायेंगे,

और साथ ही Company की Face Value 2 rs से कम होकर हो जाएगी 1 rs हो जायेंगे,

इस तरह आप देखेंगे कि भले ही Share की कुल संख्या 10,00000 से बढ़कर 20,00000 हो गई,

लेकिन Company की Share Capital and Market Capitalization जो पहले था, वो अभी भी है,

यानी Share Capital पहले भी भी 20,00000 था जो अभी भी है = 20,00000 Share X 2 rs

Face Value = 20,00000 और Market Capital जो पहले था वो अभी भी रहेगा,

क्योकि जैसे ही Share की संख्या बढती है, Market Price उसी Ratio में Adjust हो जाता है।

और Company की Market Capital होगी – 50 rs प्रति Share x 20,00000 Share = 10 Crore,

Stock Split से Company के Total Share की संख्या बढ़ जाती है।

इसका मतलब ये हुआ कि जिन लोगो के पास जितने Share है, उनके Demat Account में Split के Ratio के अनुसार, Share की संख्या बढ़ जाएगी।

For example अगर मेरे पास किसी Company के 100 Stock है,
और अगर 1:1 के Ratio में Stock Split होता है,
तो मेरे पास अब 200 Share हो जायेंगे,
जिनकी Face Value इसी Ratio में कम हो जाएगी।

Stock Split से Company के Share Capital and Market capital पर कोई फर्क नहीं पड़ता है।

इसका मतलब ये हुआ कि Stock Split करने से Company के Share की कुल संख्या बढती है।

Stock Split से Company के Share Capital and Market capital उतना ही रहेगा, जितना Stock Split से पहले था।

और इसलिए Stock Split से Company के Share Capital and Market capital पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

Stock Split से Company के Share का Face Value कम किया जाता है।

Stock Split से सबसे बड़ा प्रभाव Company के प्रति Share Face Value में होता है, और जिस Ratio में Company Stock Split करती है।

उसी Ratio में Company के प्रति Share Face Valve में कमी आ जाती है।

Stock Split से Company and Investors के फायदे

Stock Split से Company को सबसे बड़ा फायदा ये होता है, कि Company के Share के Market Value और Face Value दोनों में कमी आ जाती है।

और जिस से Company के Share नए Investors के लिए काफी सस्ते लगने लगते है, और Small Investors भी आसानी से Investment कर सकता है।

Investor's Point of View से ये फायदा है कि, पुराने Investors के पास Company के Share की संख्या ज्यादा हो जाती है।

जिसका लाभ उन्हें Dividend के रुप में होता है, और उन्हें ज्यादा लाभ मिलता है।

और साथ ही अब नए Investors आसानी से Company के Share खरीद सकते है।

Stock Split से Company को एक और बड़ा फायदा ये होता है, कि Company के Share के price में कमी और Share की संख्या ज्यादा हो जाने से Company के Share में Liquidity की समस्या में कमी आती है।

Liquidity का मतलब है कि Share खरीदने वाले को ने आसानी से Share बेचने वाले मिल जाते है।

और Share बेचने वाले को आसानी से Share खरीदने वाले मिल जाते है, Company Share क्यों Split करती है।

Stock Split से Company को होने वाले फायदों को समझने के बाद आप आसानी से समझ सकते है कि Company Stock Split क्यों करती है।

Stock Split करने के पीछे Company ये चाहती है कि Company के Share की Share market में अच्छी liquidity हो।

और Company के Share में Small Investors भी आसानी से Investment कर सके।

जानिए मेरे इस Blog में आपको क्या-क्या जानकारी मिलेगी

जानिए Investment क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या-क्या हैं

जानिए Share market क्या है ये कैसे काम करते है

जानिए क्या Share market जुआ है या Business है

जानिए Share market से पैसे कैसे कमाए जाते हैं

जानिए Mutual funds क्या है ये कैसे काम करते हैं

जानिए India में Mutual funds कितने प्रकार के होते हैं

जानिए Mutual funds में Investment कैसे करते हैं

जानिए Sip क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या क्या हैं

जानिए Sip और Lump-sum में कितना अन्तर है

Post a Comment

0 Comments