Demat and Trading Account क्या है इनके लाभ क्या है

चाहे आप IPO में shares को buy करो या फिर stock market से shares को buy करो, shares को buy and sell करने के लिए आपको demat account की जरूरत होती है।

क्योंकि demat account,, stock market के लिए compulsory होता है, बिना demat account के आप stock market में कोई भी transaction नही कर सकते हैं।

Demat account जो कि Saving account की तरह होते हैं,
जैसे कि आप saving account में हम अपने पैसे रखते हैं, वैसे ही demat account में shares रखे जाते हैं।

Demat account के साथ एक और Account खोला जाता है, जिसे trading account कहते हैं।

तो trading account के जरिए share को buy and sell किए जाते हैं, और trading account के जरिए buy किए हुए shares को demat account में रखा जाता है।

demat account आप किसी stock broker या आप अपने bank से खुलवा सकते हैं।

Demat account खुलवाने के लिए आपको कुछ basics से documents लगते हैं।

For example:-

aadhar card, pan card, passport size photo, bank passbook etc.

पहले shares,, buy and sell करने के लिए Internet और mobile app and computer software का use नहीं किए जाते थे,
तब हम जो भी shares,, buy and sell थे, वो shares हमें shares certificate के रूप में हाथों हाथ लेना और देना होता था,
जो कि उस समय बहुत ज्यादा समय लगाने वाला काम होता था, साथ ही साथ shares certificate को संभाल कर रखना भी एक जोखिम भरा कार्य था,
फिर जैसे ही share market में Internet and computer का use होना शुरू हो गया है।

तो सभी तरह के shares को DEMATERIALISED कर दिया गया है,

यानि shares को DIGITAL FORM में कर दिया गया, जिसे अब हम फिजिकली अपने हाथ में नहीं ले-दे सकते हैं, और ना ही हमें ख़रीदे गए shares को आगे संभाल रखने की जरुरत होती है,

और जिसके पास जो भी shares थे , वो shares उस shareholder का DEMAT ACCOUNT open करके उसके account में DIGITALLY एक locker के जैसा जमा कर दिया गया,
और जब वह shareholder उस share को बेच देता है, तो उसके DEMAT ACCOUNT से वो shares,, automatically निकलकर share,, buy करने वाले के demat account में जमा हो जाते हैं,

Share जो कि company को हमारे द्वारा दिया गया पैसों का एक certificate होता है।

लेकिन आज के समय में यह फिजिकल देखने को नहीं है, बल्कि पूरी तरह COMPUTERISED FORM में है,
आप SHARE को सिर्फ DEMAT FORM में ही buy and sell कर सकते हैं।

अगर किसी shareholder के पास पुराने ज़माने के share certificate रखे हुए है,
तो उस share को buy and sell करने से पहले उसे DIGITAL यानी DEMATERIALISED में बदलना अनिवार्य है।

क्या कोई व्यक्ति 2 Demat ac खोल सकता है

हाँ आप अलग अलग broker के पास अपना Demat account खोल सकते हैं।

लेकिन सभी Broker के पास से खोले गए Demat account में एक ही Depository Id होगी।

मतलब कि Demat account एक बार ही खुलती है इसकी id एकबार ही बनती है।

चाहे आप कितने भी Stock Broker के पास अपना Account खुलवा लें लेकिन आपको NSDL and CDSL से हमेशा के लिए एक बार ही Depository Id मिलती है।

मतलब कि Demat account एक ही होता है चाहे आप कितने भी Broker के पास account खुलवा लो।

Demat Acc के Profit

Demat account में shares को रखना बहुत ही फायदेमंद होता है। share को रखने का एकदम आसन और सुविधाजनक तरीका होता है,
Shares को complete bank locker की तरह सुरक्षा मिलता है।

Shares को buy and sell करने में एकदम आसान और सुरक्षित है, विस्वसनीय और सुविधाजनक होता है।

कोई भी paper work की जरूरत नहीं होता है,
TRANSACTION COST और STMAP DUTY की FEE'S कम होता है।

Share आपके demat account में AUTOMATICALLY,, credit and debit हो जाता है। आप कही भी रहते हुए shares को buy and sell कर सकते है

Demat account के Loss

DEMAT ACCOUNT के अगर इतने सारे फायदे है, और साथ ही साथ इसके थोड़े नुकसान भी होते हैं।

आप ये कभी नहीं जान पायेगें की आपने किसको share को sell किया है, आप कभी नहीं जान पायेगें की आपने किससे share को buy किया है।

Stock broker के काम पर बहुत सख्त SUPERVISION की जरुरत होती है, जिस से की वो इस system का गलत फायदा न उठा सके।

Demat account Statement in Hindi

Demat account statement जब से Demat account open हुआ है, तब से अभी तक के total shares की buy and sell कि जानकारी हासिल कि जा सकती है।

इसके लिए सबसे पहले आपको अपने stock broker कि help लेनी होती है,
और साथ ही NSDL या CDSL द्वारा आपको
समय-समय पर दिए जाने वाले statement के E-MAIL भी check कर सकते है।

Demat account कहाँ Open किया जाता है

India में SEBI के द्वारा बनाए गए नियम के अनुसार Demat Account की service and facility दो प्रमुख संस्थाओ द्वारा दी जाती है,
ये दोनों संस्था है।

NSDL (The National Securities Depository Limited)

CDSL (Central Depository Services Limited)

अगर कभी आपने भी ध्यान दिया होगा,
तो आपको पता ही होगा कि, PAN CARD भी इन्ही दोनों संस्थाओ में प्रमुख रूप से NSDL and CDSL के द्वारा बनाया जाता है।

Demat account open करने के लिए आपको NSDL and CDSL के पास जाने की जरुरत नहीं होती है।

और आप Demat account खोलने के लिए किसी भी bank and stock broker के पास Apply  कर सकते हैं।

और अगर बात करें stock broker की तो सभी stock broker आपको TRADING ACCOUNT के साथ साथ DEMAT ACCOUNT खोलने की भी सुविधा देते है।

Demat account open करने के लिए आपको अलग से कुछ करने की जरुरत नहीं होती, बस आपको किसी stock broker and bank में जाकर Application देना है।

जो Demat account open करने की service and facility देता है।

आजकल सभी "BANK" Demat account and Trading Account open करने की service and facility दे रहे है।

आप अपनी सुविधानुसार अपने नजदीकी bank and stock broker के पास जाकर इसके बारे में पता कर सकते है।

जो Demat account open करने की सुविधा देता है, और वहा आपको demat account open करने के लिए आवश्यक documents देने होते हैं।

Demat account खुलवाने के लिए आपको कुछ basics से documents लगते हैं

aadhar card, pan card, passport size photo, bank passbook etc.

Demat Account खोलने के बाद उसका Annual Maintatnce Charge भी देना होता है।

जो आपको demat account की service and facility के बदले हर साल एक fee's के तौर पे देना होता है।

जब भी आप Demat account open करने के लिए किसी stock broker and bank के पास जाते हैं।

तो वहा आप fee's के बारे में जरुर पता करे ताकि आपको बेवजह extra charge न देना पड़े।

Demat account Nomination Registration

जब भी आप Demat Account open करने जाते है, तो आपको Application form पे Nominee का नाम डालना होता है।

Nominee व्यक्ति का नाम इसलिए डालना जरुरी  है, यदि आपके किसी भी दुर्घटना की स्थिती में Demat account में जमा shares को nominee के demat account मे transfer किया जा सके।

अगर आपने demat account open कर लिया है, और nominee का नाम नहीं डाला है।

तो आप अपने stock broker and bank जहा पर आपका demat account open है।

उनसे contact करके nominee form जरुर भर ले, ये future में होने वाली किसी भी दुर्घटना की स्थिति में आपके family को बहुत लाभकारी होगा।

जानिए मेरे इस Blog में आपको क्या-क्या जानकारी मिलेगी

जानिए Investment क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या-क्या हैं

जानिए Share market क्या है ये कैसे काम करते है

जानिए क्या Share market जुआ है या Business है

जानिए Share market से पैसे कैसे कमाए जाते हैं

जानिए Mutual funds क्या है ये कैसे काम करते हैं

जानिए India में Mutual funds कितने प्रकार के होते हैं

जानिए Mutual funds में Investment कैसे करते हैं

जानिए Sip क्या है इनके फायदे-नुकसान क्या क्या हैं

जानिए Sip और Lump-sum में कितना अन्तर है